‘आने वाली पीढ़ियों को बालासाहेब विखे पाटिल का जीवन हमेशा प्रेरणा देता रहेगा’

'Balasaheb Vikhe Patil's life will always inspire generations to come'

नई दिल्ली,(mediasaheb.com) । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पूर्व केंद्रीय मंत्री बालासाहेब विखे पाटिल की आत्मकथा का विमोचन किया। बालासाहेब विखे पाटिल महाराष्ट्र के बड़े नेता रहे हैं। PM मोदी ने उनकी आत्मकथा देह वीचवा करणी का विमोचन किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि इस सोसायटी के माध्यम से गांव के युवाओं की शिक्षा और कौशल विकास को लेकर, गांव में चेतना जगाने के लिए उन्होंने जो काम किया, वो हम भलीभांति जानते हैं। ऐसे में आज से प्रवरा रूरल एजुकेशन सोसायटी के साथ भी बालासाहेब का नाम जुड़ना उतना ही उचित है। इस मौके पर महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे भी मौजूद थे।

PM मोदी ने कहा कि डॉक्टर बाला साहेब विखे पाटिल हमेशा महाराष्ट्र के गांवों की समस्याओं के समाधान को लेकर प्रयासरत रहे हैं। एमएसपी को लागू करने, बेहतर फसल बीमा समेत किसानों की हर छोटी-छोटी दिक्कतों को उन्होंने दूर करने का प्रयास किया है।

PM मोदी ने कहा कि प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के तहत महाराष्ट्र में वर्षों से लटकी 26 परियोजनाओं को पूरा करने के लिए तेजी से काम किया गया। इनमें से 9 योजनाएं अब तक पूरी हो चुकी हैं। इनके पूरा होने से करीब-करीब 5 लाख हेक्टेयर जमीन को सिंचाई की सुविधा मिली है। किसानों, पशुपालकों और मछुआरों, तीनों को बैंकों से आसान ऋण मिल पाए, इसके लिए सभी को किसान क्रेडिट कार्ड की सुविधा दी गई है।

उन्होंने कहा कि गांवों की आर्थिक और सामाजिक व्यवस्था में माइक्रो फाइनेंस का विशेष रोल है। मुद्रा जैसी योजना से गांव में स्वरोजगार की संभावनाएं बढ़ी हैं। यही नहीं बीते सालों में देश में सेल्फ हेल्प ग्रुप से जुड़ी करीब 7 करोड़ बहनों को 3 लाख करोड़ रुपये से अधिक का ऋण दिया गया है।

PM मोदी ने कहा कि चाहे वो एमएसपी को लागू करने, उसे बढ़ाने का फैसला हो, यूरिया की नीम कोटिंग हो, बेहतर फसल बीमा हो, सरकार ने किसानों की हर छोटी-छोटी दिक्कतों को दूर करने का प्रयास किया है।(हि.स.)​​​​ (#thestates.news)  

Share This Link