अम्फान से प्रभावित बंगाल को 1000, ओडिशा को 500 करोड़ रु की मदद

Amfan affected Bengal Rs 1000, Odisha Rs 500 crore

कोलकाता/भुवनेश्वर, (mediasaheb.com) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को चक्रवाती तूफ़ान ‘अम्फान’ से प्रभावित पश्चिम बंगाल और ओडिशा का हवाई सर्वेक्षण करने के बाद इन राज्यों को क्रमश: 1000 तथा ओडिशा को 500 करोड़ रुपए की सहायता देने की घोषणा की।
श्री मोदी ने सुबह बंगाल और ओडिशा में अम्फान तूफान से प्रभावित जिलों का हवाई सर्वेक्षण करने के बाद करने के बाद मीडिया को यह जानकारी दी। पश्चिम बंगाल के दौरे के दौरान उनके साथ राज्यपाल जगदीप धनकड़ और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी थीं।
उन्होंने कहा कि बंगाल में अम्फान तूफान से हुई क्षति के लिए केंद्र सरकार तुरंत एक हजार करोड़ रुपये की मदद देगी और अम्फान से प्रभावित ओडिशा को अग्रिम सहायता के तौर पर तत्काल 500 करोड़ रुपये दिए जायेंगे।

श्री मोदी ने श्री धनखड़, सुश्री बनर्जी और राज्य सरकार के अन्य अधिकारियों के साथ बशीरहाट में एक समीक्षा बैठक में कहा, “राज्य और केन्द्र सरकार चक्रवाती तूफान अम्फान से प्रभावित लोगों के साथ एकजुट होकर खड़ी हुई है।”
प्रधानमंत्री ने कहा, “पूरा देश आपके साथ खड़ा हुआ है। केन्द्र सरकार हर समय आपके साथ है। मैं आप सभी लोगों से मिलने आया था लेकिन कोविड-19 के कारण ऐसा संभव नहीं है। नुकसान कम से कम हो यह सुनिश्चित करने के लिए राज्य और केन्द्र सरकार ने मिलकर काम किया है। हम करीब 70 लोगों की जिंदगी नहीं बचा सके जिसका हमें बहुत ही दुख है। दुख की इस घड़ी में हम मृतकों के परिजनों के साथ खड़े हुए हैं। केन्द्र की ओर से पश्चिम बंगाल को तत्काल एक हजार करोड़ रुपये की सहायता राशि मुहैया कराई जाएगी।”
उन्होंने कहा कि बंगाल में तूफान के कारण मरने वाले लोगों के परिजनों को केन्द्र सरकार की ओर से दो-दो लाख रुपये और गंभीर रूप से घायलों को 50-50 हजार रुपये की सहायता राशि दी जाएगी।
श्री मोदी ने कहा कि देश पिछले दो महीने से वैश्विक महामारी कोरोना वायरस ‘कोविड-19’ का सामना कर रहा है और ऐसे में इस विकराल स्थिति में ओडिशा और बंगाल में अम्फान से व्यापक क्षति हुई है। ओडिशा में हालांकि पश्चिम बंगाल के मुकाबले कम क्षति हुयी है।

उधर,सुश्री बनर्जी ने हवाई सर्वेक्षण के बाद पत्रकारों से कहा कि यह स्पष्ट नहीं है कि श्री मोदी ने अम्फान तूफान से मची तबाही के लिए जो एक हजार करोड़ रुपए की राशि जारी की है, वह तत्काल सहायता है या एक पैकेज है।
उन्होंने कहा कि वह शनिवार को फिर से अम्फान से बुरी तरह प्रभावित दक्षिणी 24 परगना जिले का जायजा लेंगी और सबसे ज्यादा प्रभावित इलाके पाथोरपट्टीमा, गोसाबा, बसंती, नामखाना, काकद्वीप भी जाएंगी और हर ब्लॉक प्रशासन के साथ बैठक भी करेंगी।
श्री मोदी ने बीजू अंतराष्ट्रीय हवाई अड्डे के कॉन्फ्रेंस हॉल में समीक्षा बैठक के बाद ओडिशा को 500 करोड़ रुपए की सहायता देने की घोषणा की। इस बैठक के दौरान ओडिशा के राजयपाल प्रो गणेशी लाल, मुख्यमंत्री नवीन पटनायक और केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान तथा प्रताप चंद्र सारंगी समेत राज्य के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।
श्री मोदी ने कहा कि चक्रवाती तूफान अम्फान पश्चिम बंगाल में आने से पहले ओडिशा में आया जिसके कारण तटीय जिलों में कृषि, आवास, बिजली, संचार और बुनियादी ढांचे को व्यापक क्षति हुयी है। उन्होंने बैठक के दौरान स्थिति की विस्तृत समीक्षा की और राज्य सरकार ने तूफ़ान से हुयी क्षति पर प्रस्ताव भी प्रस्तुत किया।
प्रधानमंत्री ने कहा कि विभिन्न क्षेत्रों में चक्रवात से हुए नुकसान का आंकलन करने के लिए एक केंद्रीय टीम जल्द ही राज्य का दौरा करेगी। उन्होंने राज्य सरकार से क्षति पर एक विस्तृत और पूरी रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा और आश्वासन दिया कि केंद्र सरकार राज्य सरकार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर राहत और पुनर्वास कार्य में सभी सहायता प्रदान करेगी।
उन्होंने इस चक्रवाती तूफान से लोगों के जीवन को सफलतापूर्वक बचाने और क्षति कम करने के लिए ओडिशा के प्रशासन, मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की टीम समेत राज्य के लोगों की सराहना भी की।(वार्ता)

Share This Link