शांति भंग के आरोप में प्रियंका गांधी वाड्रा गिरफ्तार

Priyanka Gandhi Vadra arrested for breach of peace

लखनऊ (media saheb.com) उत्तर प्रदेश में हिंसा प्रभावित लखीमपुर खीरी जिले में प्रभावित किसानों के परिवारों से मिलने पर अड़ी कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को सीतापुर पुलिस ने शांति भंग के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है।
कांग्रेस के सूत्रों ने मंगलवार को बताया कि प्रियंका गांधी वाड्रा को धारा 107/116 और 151 के तहत गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्हे फिलहाल पीएसी परिसर में ही अस्थायी जेल में रखा गया है। उनके अलावा शांति भंग करने के आरोप में पार्टी के वरिष्ठ नेता दीपेंद्र हुड्डा और प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू समेत 11 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज़ की गई है।
इससे पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को संबोधित ट्वीट में खुद के 28 घंटे से ऊपर बगैर एफआईआर अथवा आदेश से पुलिस हिरासत में रखे जाने का प्रयोजन पूछा था। उन्होने आरोप लगाया कि आवाज उठाने वाले लोगों के खिलाफ उत्तर प्रदेश सरकार का रवैया हिंसात्मक और दमनकारी है। प्रियंका गांधी वाड्रा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी निशाना साधते हुये कहा था कि वह लखीमपुर खीरी उन परिवारों से मिलने क्यों नहीं जा रहे हैं जहां हेलीकॉप्टर से जाने में यहां से सिर्फ 15 मिनट लगते हैं।
गौरतलब है कि पिछले रविवार की रात प्रियंका गांधी वाड्रा लखीमपुर हिंसा के दौरान मारे गये चार किसानों के परिवार से मिलने लखीमपुर जा रही थी जिन्हे सीतापुर टोल प्लाजा के पास सुरक्षा बलों ने रोक लिया और वापस लौटने को कहा। प्रभावित जिले जाने की जिद पर कांग्रेस महासचिव को पीएसी द्वितीय वाहिनी परिसर स्थित गेस्ट हाउस में पुलिस निगरानी में रखा गया था।
परिसर के बाहर धरना देर रहे प्रदेश कांग्रेस के मीडिया मैनेजर नसीमुद्दीन सिद्दिकी ने कहा कि सीतापुर की पीएसी लाइन में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा की गिरफ्तारी अलोकतांत्रिक है। वह छूटते ही लखीमपुर खीरी जाकर शहीद किसानों के परिजनों से मिलेंगी। उन्होने कहा कि प्रियंका गांधी वाड्रा की निगरानी के लिये सरकार ने एक ड्रोन कैमरा भी तैनात किया है।(वार्ता) (For English News : thestates.news)

Share This Link