नाबालिग आदिवासी छात्रा दुष्कर्म मामले में सवाल उठना लाजमी:विद्यार्थी परिषद : video

Questions arises in the case of minor tribal girl rape

रायपुर/कवर्धा, (media saheb.com)  कवर्धा पुलिस के द्वारा विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं और छात्रों के ऊपर कार्यवाही किया गया । 

आदिवासी जनजाति समाज की बहनों को न्याय दिलाने जनजाति गौरव समाज के नेतृत्व में राज्यपाल के नाम पर ज्ञापन कलेक्टर को देने के लिए गया हुआ छात्र-छात्राओं और विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं का जिस प्रकार से आंदोलन हुआ, ज्ञापन सौंपने के पश्चात उचित कार्यवाही का कलेक्टर के द्वारा आश्वासन दिया गया। उसके पश्चात कार्यकर्ताओं को दर्जनों की संख्या में पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया । तो कहीं न कहीं जनजाति समाज के समर्थन में आये न्याय दिलाने उतरे कार्यकर्ताओं और छत्तीसगढ़ विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता उग्र आंदोलन के लिए तैयार है।

#कवर्धा जिले में पिछले एक माह से जिस तरह के हालात बने हैं, वह चिंता का विषय बना हुआ है। इसी बीच नाबालिग आदिवासी छात्रा से दुष्कर्म कि वारदात होती है। इसके कुछ दिनों बाद दुष्कर्म के आरोपियों को गिरफ्तार किया जाता है।

वहीं इसी दौरान शहर के प्रतिष्ठित स्कूल हाॅलीक्रास में एक नाबालिग छात्रा का अपहरण जैसे मामला आता है। #स्कूल_प्रबंधन पर धर्मांतरण का आरोप लगता है। इसके बावजूद पुलिस की कार्यशैली संदेहास्पद होती है।

नाबालिग आदिवासी #छात्रा_दुष्कर्म मामले में सवाल उठना लाजमी है, क्योंकि पुलिस प्रशासन ने या तो लापरवाही बरती है या फिर उनकी कमजोरी रही है, और यही वजह है कि भारतीय जनता पार्टी से लेकर युवा मोर्चा और अब #ABVP के कार्यकर्ता पुलिस के जिम्मेदारों पर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी को एक और मौका दे दिया सड़क पर उतरने के लिए।

Share This Link