भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने धान खरीदी की आधी अधूरी तैयारी प्रदेशभर में टोकन को लेकर अव्यवस्था पर सवाल उठाया हैं

State President of Bharatiya Janata Party Vishnudev Sai has questioned the chaos about tokens in half of the incomplete preparations for the purchase of paddy.
  • किसान पुत्र होने का ढोल पीटने वाले नेताओं किसानों की, उनके उपज की और धान खरीदी की रत्तीभर भी चिंता नहीं हैं-विष्णुदेव साय
  • भूपेश बघेल को बताना चाहिए कि प्रदेश सरकार धान खरीदी को लेकर कितनी गंभीर हैं?
  • धान खरीदी की तैयारी को लेकर प्रदेश सरकार समीक्षा ही करती रहेगी या फिर व्यवस्था भी सुधारी जाएगी?
  • धान खरीदी पूर्व प्रदेशभर में अव्यवस्था को सुधारने धरातल पर आयें मुख्यमंत्री
  • सरकार धान खरीदी को लेकर गंभीरता नहीं दिखाती,अव्यवस्था सुधार कर किसानों की परेशानी दूर करने कोई सार्थक कदम नहीं उठाती तो भाजपा चुप नहीं बैठेगी, भाजपा हर हाल में हर किसानों के साथ खड़ी रहेगी

रायपुर (media saheb.com)। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने धान खरीदी की आधी अधूरी तैयारी प्रदेशभर में टोकन को लेकर अव्यवस्था पर सवाल उठाया हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के किसानों के बीच एक महीने विलंब व अव्यवस्था के साथ धान खरीदी की तैयारी को लेकर रोष हैं। अपने आपको किसान हितैषी बता कर अपने मुह मिया मिट्ठू वाली प्रदेश सरकार द्वारा एक महीने विलंब से धान खरीदी करना प्रदेश सरकार का किसान विरोधी चेहरा पहले ही उजागर कर चुका हैं। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कहा कि प्रदेशभर के धान खरीदी केंद्रों से मिल रही अव्यवस्था की खबरें इस बात को प्रमाणित भी करती हैं कि कांग्रेस के नेता और कांग्रेस की सरकार किसान विरोधी तो हैं ही साथ ही किसान पुत्र होने का ढोल पीटने वाले नेताओं को प्रदेश के किसानों की, उनके उपज की और धान खरीदी की रत्तीभर भी चिंता नहीं हैं।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर किसान विरोधी होने और लगातार किसान विरोधी व्यवस्था कर व्यपारियों, बिचौलियों और दलालों के हित में कार्य करने का आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से पूछा हैं कि प्रदेश में किसानों को क्यों प्रताड़ित किया जा रहा हैं? टोकन के नाम पर प्रदेशभर से क्यों अव्यवस्था की खबरें आ रहीं हैं? प्रदेश सरकार की अव्यवस्था एवं लापरवाहीपूर्वक आधी अधूरी तैयारी के चलते टोकन के नाम पर क्यों किसानों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा हैं? उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को बताना चाहिए कि प्रदेश सरकार धान खरीदी को लेकर कितनी गंभीर हैं? मुख्यमंत्री बघेल को यह भी बताना चाहिए कि धान खरीदी की तैयारी को लेकर प्रदेश सरकार समीक्षा ही करती रहेगी या फिर व्यवस्था भी सुधारी जाएगी? भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी स्वयं अपने आपको किसान पुत्र बताते रहे हैं परंतु मुख्यमंत्री बनने के बाद शायद वे धरातल से दूर हो गए हैं, उन्हें अब धरातल पर आ जाना चाहिए और झूठी समीक्षा अपने मुह मिया मिट्ठू होने से बचते हुए प्रदेश के अन्नदाताओं के हित में धरातल की सच्चाई जानने और धान खरीदी पूर्व प्रदेशभर में अव्यवस्था को सुधारने धरातल पर कार्य करना चाहिए। उन्होंने मुख्यमंत्री से पूछा हैं कि समीक्षा के नाम पर कैसी समीक्षा की गई कि पहले ही दिन सॉफ्टवेअर ने धोखा दे दिया, सॉफ्टवेअर अपडेट नहीं हैं, कहीं सॉफ्टवेअर के धोखे का बहाना कांग्रेस की तरह किसानों को केवल सत्ता प्राप्ति के लिए दिये गए धोखे की तरह एक और धोखे की पुनरावित्ति तो नहीं? उपार्जन केंद्रों में ताला लटका कर किसानों को परेशानी में डालने वाली व्यवस्था किसानों को टोकन के नाम पर छलना और प्रताड़ित करना नहीं तो और क्या हैं? किसान रात रात भर ठंड में टोकन के नाम पर परेशानी झेलने मजबूर हैं और प्रदेश सरकार समीक्षा के नाम पर हवाई उड़ान भर रही हैं।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से धान खरीदी को गंभीरता से लेने और तत्काल प्रभाव से किसानों को टोकन के नाम पर हो रही परेशानियों को दूर करने एवं उपार्जन केंद्रों में व्याप्त अव्यवस्था को दूर करने की मांग की हैं। उन्होंने प्रदेश सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि सरकार धान खरीदी को लेकर गंभीरता नहीं दिखाती और धान खरीदी केंद्रों में व्याप्त अव्यवस्था और किसानों की परेशानी दूर करने कोई सार्थक कदम नहीं उठाती तो भाजपा चुप नहीं बैठेगी, भाजपा हर हाल में हर स्तिथि में प्रदेश के किसानों के साथ खड़ी रहेगी।भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से  किसानों को धान का मूल्य और बोनस की राशि का एक साथ भुगतान करवाने की मांग की हैं साथ ही किसानों को किस्तों में छलना बंद करने का आग्रह किया हैं।

Share This Link